« मित्रता के लिए फुटबॉल »के मैदान पर पहली बार युवा रेफरी जाएगा

मॉस्को , 27 अप्रैल 2018 – सार्वजनिक कंपनी « गजप्रोम» जो कि फीफा और रूस™ में आयोजित होने वाले फीफा 2018 फुटबॉल विश्व कप का आधिकारिक पार्टनर है उसके द्वारा आयोजित अंतराष्ट्रीय सामाजिक बाल कार्यक्रम "« मित्रता के लिए फुटबॉल »" के इतिहास में पहली बार युवा खेल राजदूत : फुटबॉल खिलाड़ी , पत्रकार , ट्रेनर के साथ साथ युवा रेफरी भी जुड़ रहे हैं । अब और भी ज्यादा संख्या में प्रतिभावान लड़के और लड़कियां इस भौगोलिक परियोजना का हिसा बन सकते हैं , जो कि दुनिया भर के 211 देशों और क्षेत्रों में फैला हुआ है । "« मित्रता के लिए फुटबॉल » - यह परियोजना बच्चों के बारे में , बच्चों के लिए है , यही लोग इस कार्यक्रम के मुख्य पात्र हैं , उन्हें ना केवल दूसरे साथी बल्कि वयस्क भी सुनते हैं ।

 पांचवे सीजन का युवा रेफरी का सबसे शानदार उदाहरण चीन के रुंझी चुई बना । इस कार्यक्रम में बहुत बड़ा योगदान भारत के अनन्या कम्बोजी का रहा । 2017 में उसने अंतराष्ट्रीय बाल प्रैस केंद्र में युवा पत्रकार के रूप में काम किया , और आधिकारिक कार्यक्रम के खत्म हो जाने के बाद , कार्यक्रम के अंत में उसने नौ बुनियादी मूल्यों से संबन्धित किताब "« मित्रता के लिए फुटबॉल »" का विमोचन किया । पांचवे सीजन का उधेशयपूर्णता का सबसे बड़ा उदाहरण बोलिविया के युवा फुटबॉल खिलाड़ी लुकास सौसेदो बना – जो अपने पिता से उदाहरण लेकर जो एक पेशेवर फुटबॉल खिलाड़ी थे , उनके कदम चिन्हों पर चला , और उसने अपने सामने आने वाली कठिनाइयों पर काबू पाकर , अपने खेल कौशल में उत्कृश्होने के लिए हर संभव प्रयास किया ।

कार्यक्रम के संचालन के अनुभव से पता चला है कि अधिक से अधिक युवा इस तरह के बड़े परियोजना "« मित्रता के लिए फुटबॉल »" में शामिल होना चाहते हैं , जो लगातार छठे वर्ष सफलतापूर्वक नए देशों और क्षेत्रों को इस परियोजना से जोड़ रहा है । कार्यक्रम में बढ़ती दिलचस्पी को देखते हुए ,आज "« मित्रता के लिए फुटबॉल »" के एकीकृत टीम जिसमें युवा फुटबॉल खिलाड़ी , युवा पत्रकार और युवा ट्रेनर हैं उनके साथ युवा रेफरी –रूस के बगदान बातालीन (उम्र-14 साल ) भी इसमें शामिल हो जाएँगे । इस युवा को आयोजन समिति द्वारा कार्यक्रम मेंज भाग लेने के लिए आमंत्रित किया गया था ।

« मित्रता के लिए फुटबॉल » के विश्व कप में युवा रेफरी 32 अन्तर्राष्ट्रीय मैत्री टीमों के बीच होने वाले सभी मैचों , जिसमें अलग अलग देशों के बच्चे , विभिन्न लिंग , और विभिन्न शारीरिक क्षमताओं के बच्चे शामिल हैं , उनके बीच होने वाले मैचों में युवा रेफरी वयस्क रेफरी के साथ टीम में रहेंगे और अपना अमूल्य योगदान देंगे ।

मुझे बहुत खुशी है कि मैं « मित्रता के लिए फुटबॉल » के कार्यक्रम में भाग ले रहा हूँ । मेरे लिये यह सबसे पहले , वास्तविक पेशेवर फुटबॉल खिलाड़ियों के साथ साथ ,अलग अलग देशों के लोगों से मिलने का अवसर है । फुटबॉल हम सबको आपस में जोड़ता है , मैं बड़ी बेसब्री से कार्यक्रम शुरू होने का इंतजार कर रहा हूँ , ताकि मैं अपनी कला और क्षमताओं को लोगों को दिखा सकूँ । गेरार्डो पेनाल्वर बिल्बाओ , उम्र -16 साल « मित्रता के लिए फुटबॉल » क्यूबा के युवा रेफरी ने अपनी भावनाओं को साझा किया ।

 मैं रेफरी स्कूल में पढ़ाई करने गया , ताकि मैं इसके नियम कानून समझ सकूँ । आगे चलकर मैं एक पेशेवर रेफरी बनना चाहता हूँ । « मित्रता के लिए फुटबॉल » कार्यक्रम में भाग लेने से मुझे और भी अधिक अनुभव मिलेगा । मैं इसमें शामिल सभी लोगों को बिना नियमों का उलंघन किए अच्छे खेल के लिये शुभकामनाएँ देता हूँ । मैं खेल के दौरान सख्त हो सकता हूँ हो सकता है मैं खिलाड़ी को मैदान से हटा सकता हूँ मगर सजा देते समय मैं निष्पक्ष रहने का वादा करता हूँ । बोगदान बातालीन,उम्र -14 साल - « मित्रता के लिए फुटबॉल » कार्यक्रम के युवा रेफरी , रूस से , oo « इरकुट फुटबॉल फेडरेशन »,द्वारा संचालित रेफरी स्कूल के छात्र ने कहा ।

«युवा रेफरी का चयन – एक अद्भुत पहल, और वास्तव में कार्यक्रम « मित्रता के लिए फुटबॉल »के लिये मील का पत्थर । इस तरह की भूमिका परियोजना के अनुसार बहुत उपयुक्त है , क्यूंकी हमारा मुख्य मकसद –बच्चों कि मदद करना है ताकि उन्हें सुना जा सके । मुझे यकीन है , यह इसमें शामिल सभी प्रतिभागियों के लिये बहुत उपयोगी और दिलचस्प होगा, क्यूंकी वयस्क रेफरी किवाल कानूनी दिशा निर्देश का पालन करते हैं , जबकि युवा रेफरी « मित्रता के लिए फुटबॉल » के मूल सिद्धांत को प्रदर्शित कर सकेंगे । और आगे चलकर बड़ों को कुछ सीखा सकेंगे । - गेरारद तिम्मेर्स , « मित्रता के लिए फुटबॉल »के नीदरलैंड प्रतिनिधि , « व व अल्क्मार».फुटबॉल टीम के कोच ने कहा ।